90 के दशक की जानी-मानी स्टार करिश्मा कपूर इन दिनों अपने बच्चों के लालन-पालन में बिजी हैं और फिलहाल उनकी फिल्मों की वापसी को लेकर कोई पुख्ता जानकारी नहीं है। लेकिन आज भी करिश्मा कपूर अपने चाहने वाले फैंस के दिलों पर राज करती है। 90 के दशक में एक्ट्रेस करिश्मा कपूर ने ‘राजा हिंदुस्तानी’, ‘बीबी नंबर 1’ समेत कई हिट फिल्मों में काम किया है। हाल ही में करिश्मा कपूर से जब एक इंटरव्यू में पूछा गया कि क्या अपनी किस हिट फिल्म के रीमेक में बहन करीना कपूर खान को देखना चाहती हैं तो उन्होंने झट से सलमान खान के साथ आई उनकी फिल्म ‘बीबी नंबर 1’ का नाम ले लिया।

साथ ही करिश्मा ने कहा, ’90 के दशक में हिंदी सिनेमा को कई सारी बड़ी हिट फिल्में मिली। इसीलिए ये भारतीय सिनेमा का सबसे बेस्ट समय रहा है।’ वाकई करिश्मा कपूर की इस बात में दम है। इस समय शाहरुख खान की ‘दिलवाले दुल्हनिया ले जाएंगे’ से लेकर माधुरी दीक्षित की ‘हम आपके हैं कौन’ तक ने दर्शकों के दिलों पर राज किया है। खैर, वापस अगर करिश्मा कपूर की इस दिली इच्छा के बारे में बात करें तो ये महज एक सवाल था। अभी इस फिल्म के रीमेक को लेकर कोई खास जानकारी सामने नहीं आई है। ‘कुली नं 1’ के रीमेक से बाहर हुईं आलिया भट्ट, वरुण धवन ने इशारों-इशारों में लिया इस हीरोइन का नाम

हां, लेकिन इतना जरुर पता लगा है कि एक्टर वरुण धवन जरुर अपने पापा और निर्माता-निर्देशक डेविड धवन की फिल्मों की ‘नंबर 1’ सीरीज को दोबारा खड़ा करना चाहते हैं। उनकी इसी कोशिश के तहत ‘कुली नंबर 1’ के रीमेक की तैयारियां चल रही है। ऐसे में संभव है कि आने वाले दिनों में वरुण धवन अपने पापा की इस फिल्म ‘बीबी नंबर 1’ का भी रीमेक बनाएं। हालांकि ऐसी चर्चाएं जरुर हैं कि इस फिल्म के रीमेक की संभावनाएं तलाशी जा रही है। निगेटिव रोल करके इन 10 कलाकारों ने खुद के पैर पर मार ली कुल्हाड़ी, फ्लॉप हुई फिल्म, दर्शकों ने भी सुनाई खरी खोटी

करिश्मा कपूर अपनी बहन करीना के बेहद करीब हैं। ऐसे में वो जरुर चाहेंगी की करीना ही इस फिल्म का हिस्सा बनें। लेकिन अगर ऐसा होता है तो क्या आप इस फिल्म में करिश्मा कपूर की बहन करीना कपूर को लीड रोल में देखना चाहेंगे। अगर हां तो अपना जवाब हमें वोट करके बताएं।

बॉलीवुड और टीवी जगत की ताजा खबरों के लिए यहां क्लिक करें…

बॉलीवुड लाइफ हिन्दी के फेसबुक पेज, ट्विटर पेज और इंस्टाग्राम अकाउंट से जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें…

Source: Read Full Article